पीरियड में दर्द कम करने की टेबलेट की जानकारी

दर्द कम करने की टेबलेट
दर्द कम करने की टेबलेट

कई सारी महिलाएं ऐसी है जो पीरियड के दौरान अधिक दर्द की समस्या को कम करने के लिए अलग-अलग प्रकार की टैबलेट यानी की टेबलेट का सेवन करती है, जिससे वह अपना मासिक धर्म में होने वाला दर्द को कम कर सके |

पीरियड के दौरान महिला को दर्द शरीर में निकलने वाले गर्भाशय की ऊपरी परत की वजह से होने लगता है | पीरियड में गर्भाशय के ऊपरी परत अंडों की सहायता से महिला के शरीर से बाहर निकलने लगते है, जिसे हम मासिक स्त्राव कहते हैं |

पीरियड के दौरान महिलाओं को सर में दर्द होना पैरों में दर्द होना कमर में दर्द होना पेट में दर्द होना ऐसी कई सारी समस्याओं से लड़ना पड़ता है | इसलिए वह अलग अलग प्रकार की आयुर्वेदिक दवाइयां घरेलू नुस्खे आजमाकर पीरियड का दर्द कम करने का प्रयास करती है, लेकिन कई बार घरेलू नुस्खे आजमा कर भी उन्हें पीरियड का दर्द से छुटकारा नहीं मिलता और इसीलिए वह पीरियड में पेट दर्द के लिए टेबलेट, सर दर्द के लिए गोली, कमर दर्द के लिए गोली अलग-अलग प्रकार की लेना शुरू कर देती है |

लेकिन क्या आपको पता है पीरियड्स के दर्द को कम करने के लिए आपको अलग-अलग प्रकार की दवाइयों का सेवन करना जरूरी नहीं है ? आप एक गोली से भी उसे खत्म कर सकते हो |

पीरियड के दर्द को कम करने के लिए नेप्रोसिन बहुत जरूरी होता है और यह महिला के शरीर को दर्द से बचने के लिए मदद करता है |

पीरियड में पैरों में दर्द क्यों होता है ?

पीरियड में दर्द को कम करने की गोली का नाम क्या है ?

यदि आपको पीरियड में दर्द को कम करने के लिए गोली का सेवन करना है, तो आपको सबसे पहले इस गोली का सेवन डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए | हर महिला के शरीर की बनावट अलग अलग है इसीलिए कुछ औरतों को पीरियड में दर्द कम होता है, तो कुछ औरतों को पीरियड में दर्द अधिक होता है |

पेट के दर्द करने की टेबलेट है – Naproxen 250mg Gastro-resistant Tablet

Naproxen 250mg Gastro-resistant Tablet
Naproxen 250mg Gastro-resistant Tablet

गैस्ट्रो रेजिस्टेंट टेबलेट यह पेन किलर की तरह काम करता है | इसमें नेप्रोसिन मौजूद होने की वजह से यह पीरियड में होने वाला पेट दर्द कमर दर्द सर दर्द को कम करता है |

पीरियड में स्तनों में दर्द होने पर क्या करे ? जानिए

क्या है इस पीरियड्स के दर्द को कम करने की दवाई मैं ?

मासिक धर्म का दर्द कम करने की टेबलेट में नेप्रोसिन होने से यह non-steroidal anti-inflammatory drugs (NSAIDs) कि श्रेणी में आता है और यह मासिक धर्म में आने वाले दर्द को कम करने में सहायता करता है | आमतौर पर इस दवाई का सेवन 15 से 50 उम्र तक की महिलाएं कर सकती है |

मासिक धर्म का दर्द कम करने की टेबलेट का सेवन कब नहीं करना चाहिए ?

यह बीमारी से आप ग्रसित है तो आपको इस टैबलेट का सेवन बिलकुल नहीं करना है –

  • यदि आप प्रेग्नेंट है |
  • यदि आप बच्चे को दूध पिला रही है |
  • यदि आपके किडनी मैं खराबी है |
  • यदि आपको स्तनों का कैंसर है |
  • यदि आपको टेबलेट से एलर्जी है |
  • यदि आपको पेट का अल्सर है |
  • यदि माइग्रेन की समस्या है |
  • यदि आपको डायबिटीज है |

यदि आपको ऊपर दिए हुए किसी भी प्रकार के लक्षण आपके अंदर दिखाई दे रहे हैं, तब आपको इस गोली का सेवन बिलकुल नहीं करना है |

पीरियड का दर्द कम करने की टेबलेट को कैसे सेवन करना है ?

कई महिलाए टेबलेट्स का सेवन बिना किसी जानकारी के करना शुरू कर देते हैं, कभी इस टैबलेट का सेवन 8 घंटों के अंदर दोबारा नहीं करना है | पीरियड में दर्द को कम करने के लिए आपको सुबह एक टेबलेट और रात में एक टेबलेट लेनी है |

कभी भी जल्दबाजी में टैबलेट्स का सेवन नहीं करना है यदि आपका टैबलेट्स का कोर्स मिस हो गया है, तो आपको एक ही बार में दो टैबलेट का सेवन नहीं करना है |

नोट :

किसी भी प्रकार का सेवन डॉक्टर की अनुमति सही करना है | यह जानकारी हमने इंटरनेट के माध्यम से जमा की है | यदि आपको किसी भी प्रकार की एलर्जी या स्किन प्रॉब्लम दिखाई दे रही है, तब आपको इस टेबलेट का सेवन करना तुरंत बंद कर देना है | यदि आप किसी भी प्रकार का सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट में लिख कर हम से पूछ सकते हैं |

पीरियड में सिर दर्द की समस्या का इलाज कैसे करे ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here